स्पोर्ट्स

एक ही ODI में शतक और 5 विकेट लेने का कमाल कर चुके 4 खिलाड़ी, करीब पहुंचने के बावजूद चूके 3 भारतीय..

[ad_1]

नई दिल्‍ली. किसी वनडे में शतक जड़ने के साथ ही 5 विकेट हासिल करना अपने आप में बेहद खास है. यह कारनामा अंजाम देने की हसरत हर ऑलराउंडर की होती है लेकिन चंद ही इसमें कामयाब हो पाते हैं. इंटरनेशनल क्रिकेट में कपिल देव, इयान बॉथम, इमरान खान, रिचर्ड हैडली और जैक्‍स कालिस जैसे बेहतरीन ऑलराउंडर चमक बिखेर चुके हैं लेकिन इनमें से कोई भी यह उपलब्धि हासिल नहीं कर पाया.वनडे क्रिकेट के करीब 53 साल के इतिहास में अब तक चार प्‍लेयर- वेस्‍टइंडीज के विव रिचर्ड्स, इंग्‍लैंड के पॉल कॉलिंगवुड, यूएई के रोहन मुस्‍तफा और नीदरलैंड्स के बास डि लीडे ने एक ही वनडे में शतक और 5 विकेट लेने का कमाल किया है.

तीन भारतीय प्‍लेयर-सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और युवराज सिंह के पास भी इस उपलब्धि को हासिल करने का मौका था लेकिन दुर्भाग्‍यवश इस रिकॉर्ड के बेहद करीब पहुंचने के बावजूद वे चूक गए.

क्रिकेट स्क्वॉड या ‘ब्रदर ब्रिगेड!’, जब ODI में एक टीम से खेलीं भाइयों की 4 जोड़‍ियां

सबसे पहले रिचर्ड्स ने किया था यह कमाल
एक ही ODI में शतक और 5 विकेट लेने का कमाल सबसे पहले वेस्‍टइंडीज के विव रिचर्ड्स (Viv Richards) ने किया था. 18 मार्च 1987 को न्‍यूजीलैंड के खिलाफ ड्यूनेडिन वनडे में उन्‍होंने 113 गेंदों पर 10 चौकों और चार छक्‍कों की मदद से 119 रन बनाने के बाद 10 ओवर्स में 41 रन देकर 5 विकेट लिए थे. पार्ट टाइम बॉलर रिचर्ड्स ने इस दौरान जॉन राइट, जेफ क्रो, दीपक पटेल, जरमी कोनी और रिचर्ड हेडली को शिकार बनाया था और प्‍लेयर ऑफ द मैच रहे थे. रिचर्ड्स के बाद इंग्‍लैंड के पॉल कॉलिंगवुड (Paul Collingwood) ने 21 जून 2005 को नॉटिंघम वनडे में ऐसा किया. बांग्‍लादेश के खिलाफ मैच में उन्‍होंने नाबाद 112 रन (86 गेंद, 19 चौके) बनाने के बाद 31 रन देकर 6 शिकार किए. कॉलिंगवुड ने जावेद उमर, मो.अशरफुल, कप्‍तान हबीबुल बशर, आफताब अहमद, खालेद मसूद और मशरफे मुर्तजा को आउट किया था. इस प्रदर्शन के चलते वे प्‍लेयर ऑफ द मैच रहे थे.

1 रन से ट्रिपल सेंचुरी चूके 2 बैटर, एक हुआ आउट तो दूसरा… 199 रन पर अटके 12 क्रिकेटर

नीदरलैंड्स के डि लीडे ने पिछले साल ही किया ‘यह कारनामा’

कॉलिंगवुड की उपलब्धि के करीब 12 साल बाद आईसीसी के एसोसिएट मेंबर, संयुक्‍त अरब अमीरात (UAE) के रोहन मुस्‍तफा (Rohan Mustafa) ने पापुआ न्‍यू गिनी के खिलाफ 4 अप्रैल 2017 को अबूधाबी वनडे में 109 रन (125 गेंद, सात चौके व एक छक्‍का) बनाने के बाद 25 रन देकर PNG के 5 बैटरों को पवेलियन लौटाया था. सबसे आखिर में नीदरलैंड्स के बास डि लीडे (Bas de Leede)ने स्‍कॉटलैंड के खिलाफ 6 जुलाई 2023 को बुलावायो में यह कमाल किया था. आईसीसी क्रिकेट वर्ल्‍डकप क्‍वालिफायर मैच में उन्‍होंने 10 ओवर में 52 रन देकर 5 विकेट लिए और फिर 92 गेंदों पर सात चौकों व पांच छक्‍कों की मदद से 123 रन बनाते हुए नीदरलैंड्स को 42.5 ओवर्स में 278 के टारगेट तक पहुंचने में खास भूमिका निभाई थी. मैच नीदरलैंड्स ने 4 विकेट से जीता था और डि लीडे प्‍लेयर ऑफ द मैच रहे थे.

गर्लफ्रेंड संग जो मैच देखने गया उसी में मिल गया डेब्‍यू का मौका, IPL भी खेला

तीन भारतीय प्‍लेयर रिकॉर्ड के करीब पहुंचे लेकिन…

सौरव गांगुली ने श्रीलंका के खिलाफ नागपुर ODI में शतक बनाने के अलावा 4 विकेट लिए थे.Yuvraj Singh/Instagram

कोई भारतीय खिलाड़ी अब तक इस उपलब्धि को हासिल नहीं कर पाया है. टीम इंडिया के तीन प्‍लेयर इस रिकॉर्ड के करीब पहुंचने के बावजूद इसे हासिल करने में नाकाम रहे, इसमें सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और युवराज सिंह शामिल हैं. इन तीनों ही प्‍लेयर ने एक ही मैच में शतक जड़ने के बाद चार विकेट लिए थे लेकिन एक विकेट से यह रिकॉर्ड चूक गए. सचिन (Sachin Tendulkar) ने 28 अक्‍टूबर 1998 को ढाका में ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ विल्‍स इंटरनेशनल कप के क्‍वार्टर फाइनल में 141 रन (128 गेंद, 13 चौके व तीन छक्‍के) बनाने के बाद विपक्षी टीम के चार बैटरों (स्‍टीव वॉ, माइकल बेवन, डेमियन मार्टिन और ब्रेड यंग) को पवेलियन लौटाया था. ऐसा लग रहा था कि मास्‍टर ब्‍लास्‍टर यह खास रिकॉर्ड अपने नाम कर लेंगे लेकिन निचले क्रम के माइकल कास्‍प्रोविच के रन आउट होने के कारण उनकी संभावनाएं प्रभावित हुईं. सचिन ने मैच में 9.1 ओवर में उन्‍होंने 38 रन देकर 4 विकेट लिए थे.

इसके करीब पांच माह बाद सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) भी इस मामले में बदकिस्‍मत साबित हुए. 22 मार्च 1999 को श्रीलंका के खिलाफ नागपुर वनडे में सौरव ने 160 गेंदों पर पांच चौकों और दो छक्‍कों की मदद से नाबाद 130 रन बनाए और फिर 21 रन देकर चार विकेट लिए. युवराज सिंह (Yuvraj Singh) का हाल भी ऐसा ही रहा. ‘युवी’ ने 17 नवंबर 2008 को इंग्‍लैंड के खिलाफ इंदौर में हुए वनडे में 122 गेंदों पर 15 चौकों और दो छक्‍कों की मदद से 118 रन की शतकीय पारी खेली और फिर मेहमान टीम के ओवेस शाह, मैट प्रायर, एंड्रयू  फ्लिंटाफ और केविन पीटरसन जैसे शीर्ष बैटरों को शिकार बनाया था. बदकिस्‍मती से उनके विकेटों की संख्‍या भी चार त‍क सीमित रह गई.

जब ‘सरदारजी’ के गेटअप में घर से निकले सौरव गांगुली, जानें क्‍या था माजरा

विश्‍व क्रिकेट के कुछ अन्‍य खिलाड़ी भी करीब पहुंचने के बावजूद इस खास क्‍लब में जगह बनाने में नाकाम रहे हैं, इसमें श्रीलंका के सनथ जयसूर्या व तिलकरत्‍ने दिलशान, वेस्‍टइंडीज के क्रिस गेल, पाकिस्‍तान के शोएब मलिक व मोहम्‍मद हफीज और बांग्‍लादेश के शाकिब अल हसन शामिल हैं. इन प्‍लेयर्स के नाम पर भी सचिन, सौरव और युवराज की तरह एक ही मैच में शतक और चार विकेट लेने की उपलब्धि दर्ज है.

Tags: Cricket, ODI cricket, Sachin tendulkar, Sourav Ganguly, Viv richards, Yuvraj singh

[ad_2]

Source link